‘राफेल’ विमान के सोदे में ………

0
संसद के दोनों सदन की सयुंक्त सभा में विपक्ष द्वारा ‘राफेल’ विमान के सोदे में गलती  की उठाई गई आशंका के बारे में स्पष्टता करने के बदले PM मोदी ने संसद में चुनावी संबोधन कर दिया.ऐतिहासिक जूठ बोलने में RSS से तालीम प्राप्त संघी की बराबरी कोई नहीं कर सकता.. दि. 7 फरवरी ’17 को संसद के दोनों गृहों की सयुंक्त बैठक में  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किये संबोधन में ये बात उभर कर सामने आई… देश के सब से बड़े जुमलेबाज प्रधानमंत्री मोदीजी के जुमले का परिक्षण कीजिये..
1. प्रधानमंत्री मोदी ने भारत विभाजन के लिए कांग्रेस को ज़िम्मेदार ठहराया. देश के विभाजन के लिए ब्रिटिश शासन, मुस्लिम लीग, हिन्दू महासभा और RSS जिम्मेदार नहीं है क्या?
2.  प्रधानमंत्री किस कांग्रेस की बात कर रहे हैं? क्या तत्कालीन गृहमंत्री सरदार पटेल उस कांग्रेस में शामिल नहीं थे, जिसने विभाजन का प्रस्ताव माना ? और उन दिनों जनसंघ के ब्राह्मण नेता श्यामा प्रसाद मुखर्जी क्या कोंग्रेसी मंत्री मंडल में सामिल नहीं थे?
3. जिन्ना से पहले Two Nation Theory की बात सबसे पहले तो सावरकर ने की थी! तो उस वक़्त की कांग्रेस को खलनायक क्यों बना रहे हैं मि. मोदी..?
4. 1972 के शिमला इंदिरा गांधी और झुल्फिकार भुट्टो के बीच हुवे  समझौते को प्रधानमत्री मोदीजी ने इंदिरा गांधी और बेनज़ीर भुट्टो के बीच का समझौता बता डाला,
5. क्या पंडित नहेरु ने इंदिरा गाँधी को PM बनाया ? क्या  इंदिरा गाँधी ने राजीव गाँधी को पीएम बनाया ?.देश के प्रधानसेवक ने झुठ का सहारा लेकर संसद का अवमान किया इसलिए बलीराजा पक्ष केंद्र सरकार का निषेध करता है.

Leave A Reply