नया सौर मंडल खोजने में गूगल

0

वाशिंगटन: अमेरिका की अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने हमारे जैसा नया सौर मंडल खोजने में गूगल के आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई) का इरस्तेमाल किया है. यह सौर मंडल धरती से 2,545 प्रकाश वर्ष दूर है और यह सूर्य जैसे तारे की परिक्रमा कर रहा है. आठ ग्रहों वाला यह सौर मंडल हमारे सौर मंडल की तरह की पहली खोज है. केपलर-90i नाम का अत्यंत गर्म, चट्टानी ग्रह 14.4 दिन में अपने तारे की एक परिक्रमा पूरी करता है.
यह नासा की ग्रह खोज से जुड़ी केपलर दूरबीन के डेटा विश्लेषण के लिए गूगल मशीन की मदद से खोजा गया. नासा के पोस्टडॉक्टरल फेलो एवं टेक्सास यूनिवर्सिटी के खगोल विज्ञानी एंड्र्यू वंडेरबर्ग ने कहा, ‘केपलर-90 तारा मंडल हमारे सौर मंडल के छोटे स्वरूप जैसा है. आप अंदर छोटे और बाहर बड़े ग्रह देखते हैं, लेकिन हर चीज एक-दूसरे के बेहद नजदीक सीमित है.’

​       वाशिंगटन में नासा के खगोल-भौतिकी विभाग के निदेशक पॉल हटर्ज ने कहा, ‘यह खोज दर्शाती है कि हमारा डेटा आने वाले वर्षों में नवीन सोच के अनुसंधानकर्ताओं के लिए एक खजाना होगा.’ धरती से करीब 30 प्रतिशत बड़ा केपलर-90i अपने तारे के इतना नजदीक है कि इसका औसत सतही तापमान 800 डिग्री फारेनहाइट से अधिक माना जाता है. इसका सबसे बाहरी ग्रह केपलर-90h अपने तारे का उतनी ही दूरी से चक्कर लगाता है जितनी दूरी से धरती सूर्य का चक्कर लगाती है.

Leave A Reply